थाना मंदिर हसौद क्षेत्रांतर्गत सेरीखेड़ी में हुये अंधे कत्ल का खुलासा मृतिका का पति ही निकला आरोपी
छत्तीसगढ़

थाना मंदिर हसौद क्षेत्रांतर्गत सेरीखेड़ी में हुये अंधे कत्ल का खुलासा मृतिका का पति ही निकला आरोपी

  • आरोपी पति ने अपनी पत्नि मृतिका स्मिता बाकचे की मंदिर हसौद क्षेत्रांतर्गत सेरीखेड़ी स्थित सात बंगला पास की थी हत्या।
  • मृतिका की मानसिक स्थिति ठीक न होने से दंपत्ति के मध्य आये दिन होता था विवाद व झगड़ा।
  • आरोपी ने मृतिका के सिर एवं चेहरे पर पत्थर से ताबड़तोड़ वार कर दिया था हत्या की घटना को अंजाम।
  • सायबर सेल एवं थाना मंदिर हसौद की संयुक्त टीम द्वारा आरोपी को किया गया गिफ्तार।
  • पुलिस को गुमराह करने हेतु आरोपी थाना मंदिर हसौद आया था अपनी पत्नि का गुम इंसान दर्ज कराने।
  • घटना में प्रयुक्त पत्थर व आरोपी का खून लगा कपड़ा किया गया जप्त।
  • आरोपी के विरूद्ध थाना मंदिर हसौद में अपराध क्रमांक 26/21 धारा 302 भादवि. के तहत् किया गया है अपराध पंजीबद्ध।

प्रार्थी चंदन साहू ने दिनांक 18.01.21 को थाना मंदिर हसौद में रिपोर्ट दर्ज कराया कि नवा रायपुर जाने वाली रास्ता के बगल सात बंगला के घेरा अंदर सेरीखेड़ी में एक अज्ञात महिला उम्र करीबन 30 साल दीवाल किनारे मृत अवस्था में पडी है। जिसके सिर, चेहरा, गला में चोट का निशान है एवं खून निकला है। किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा अज्ञात महिला की हत्या करना प्रतीत हो रहा था। जिस पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना मंदिर हसौद में अपराध क्रमांक 26/21 धारा 302 भादवि. का अपराध पंजीबद्ध किया गया।
हत्या की घटना को पुलिस उप महानिरीक्षक एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक महोदय श्री अजय यादव द्वारा गंभीरता से लेते हुये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण श्री तारकेश्वर पटेल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अपराध श्री अभिषेक माहेश्वरी, नगर पुलिस अधीक्षक माना श्री लालचंद मोहले, प्रभारी सायबर सेल श्री रमाकांत साहू एवं थाना प्रभारी मंदिर हसौद श्री राजेन्द्र दीवान को मृतिका अज्ञात महिला की शिनाख्त करते हुये अज्ञात आरोपी की पतासाजी कर आरोपी को गिरफ्तार करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये। जिस पर वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में सायबर सेल एवं थाना मंदिर हसौद की एक संयुक्त टीम का गठन किया गया। टीम के सदस्यों द्वारा घटना स्थल का बारिकी से निरीक्षण किया जाकर हत्या के सब पहलुओं को ध्यान में रखते हुये मृतिका अज्ञात महिला की पहचान करने के साथ ही अज्ञात आरोपी के संबंध में पतासाजी करते हुये जानकारियां जुटाना प्रारंभ किया गया। टीम द्वारा मृतिका अज्ञात महिला के संबंध में जानकारी एकत्रित करते हुये मृतिका की पहचान स्मिता बाकचे निवासी कृष्णा नगर गुढ़ियारी रायपुर के रूप में की गई। टीम द्वारा अज्ञात आरोपी की पतासाजी करते हुये घटना के संबंध में प्रार्थी सहित आसपास के लोगों से विस्तृत पूछताछ किया गया। अज्ञात आरोपी की पतासाजी के संबंध में मुखबीर लगाने के साथ ही तकनीकी विश्लेषण किया जाकर भी अज्ञात आरोपी की पहचान सुनिश्चित करने के प्रयास किये जा रहे थे। इसी दौरान मृतिका का पति राजेन्द्र बाकचे मृतिका का गुम इंसान दर्ज कराने हेतु थाना मंदिर हसौद आया जिसने बताया कि उसकी पत्नि स्मिता बाकचे की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी तथा वह अपनी पत्नि के साथ मंदिर हसौद क्षेत्र में अपनी दोपहिया वाहन में घुमने निकले थे। घुमने के दौरान उसकी पत्नि उसे बिना बताये कहीं चली जिस पर राजेन्द्र बाकचे अपनी पत्नि को आसपास ढूंढ़ा नहीं मिलने पर वह अपने घर गुढ़ियारी चला गया। टीम के सदस्यों द्वारा राजेन्द्र बाकचे से घटना के संबंध में विस्तृत करने पर वह बार – बार अपना बयान बदल रहा था जिससे टीम को उस पर शक हुआ और टीम के सदस्यों द्वारा राजेन्द्र बाकचे के संबंध में साक्ष्य एकत्र करना प्रारंभ करते हुये घटना दिनांक का उसके आने – जाने वाले मार्गो के साथ ही घटना स्थल के आसपास के सी.सी.टी.व्ही.
कैमरों के फुटेजों का अवलोकन करते हुये अन्य तकनीकी विश्लेषण किया गया जिस पर राजेन्द्र बाकचे के संबंध में महत्वपूर्ण साक्ष्य प्राप्त हुयेे। प्राप्त साक्ष्यों के आधार पर टीम द्वारा राजेन्द्र बाकचे से कड़ाई से पूछताछ करने पर वह ज्यादा देर अपने झूठ के सामने टिक न सका और अंततः अपनी पत्नि स्मिता बाकचे की पत्थर से मारकर हत्या करना स्वीकार किया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसकी पत्नि मृतिका स्मिता बाकचे की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी जिससे आये दिन दोनों के मध्य विवाद व झगड़ा होता था। दिनांक घटना को दोनों मंदिर हसौद क्षेत्र में घुम रहे थे इसी दौरान दोनों के मध्य किसी बात को लेकर पुनः विवाद व झगड़ा शुरू हो गया जिस पर आरोपी राजेन्द्र बाकचे ने मृतिका को घटना स्थल पास ले जाकर पास पड़े पत्थर से अपनी पत्नि मृतिका स्मिता बाकचे के सिर एवं चेहरा में ताबड़तोड़ वार किया जिससे उसकी मृत्यु हो गयी तथा वह पुलिस को गुमराह करने हेतु अपनी पत्नि मृतिका का गुम इंसान दर्ज कराने हेतु थाना मंदिर हसौद आया था। आरोपी की निशानदेही पर उसके कब्जे से घटना में प्रयुक्त पत्थर एवं घटना के दौरान आरोपी के पहने खून लगा कपड़ा जप्त किया गया। आरोपी को गिरफ्तार कर उसके विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही किया गया।
गिरफ्तार आरोपी – राजेन्द्र बाकचे पिता बालकृष्ण बाकचे उम्र 31 साल निवासी कृष्णा नगर गुढ़ियारी रायपुर।
आरोपी को गिरफ्तार करने में निरीक्षक राजेन्द्र दीवान थाना प्रभारी मंदिर हसौद, उपनिरीक्षक त्रिलोक प्रधान थाना आरंग, रूपेन्द्र देवांगन थाना राखी, सायबर सेल से प्र.आर. सैय्यद ईरफान, आर. मोह0 सुल्तान, अनिल पाण्डेय, उपेन्द्र यादव, म.आर. बबीता देवांगन, थाना मंदिर हसौद से आर. राजकुमार कोशले, हेमवती नंदन यादव एवं राकेश साहू की विशेष भूमिका रहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *