• November 30, 2022 3:57 am

दिग्विजय ने लिया नामांकन फॉर्म, कहा- कल दाखिल करुंगा, MP के 12 विधायक जाएंगे दिल्ली

Share More

29 सितंबर 2022 | राजस्थान के सियासी घटनाक्रम के बाद कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव दिलचस्प हो गया है। गुरुवार को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने नामांकन फार्म लिया। दिग्विजय सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि वह अपना नामांकन फॉर्म लेने आए हैं। संभवत: कल (शुक्रवार) अपना नामांकन फॉर्म दाखिल करेंगे। इसके पहले मध्यप्रदेश के नेता प्रतिपक्ष और पूर्व मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने कहा कि वह दिग्विजय सिंह का प्रस्तावक बनने के लिए दिल्ली जाएंगे। मध्यप्रदेश से 10 विधायक उनके प्रस्तावक बनने के लिए दिल्ली जा रहे हैं।

मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ. गोविंद सिंह के अनुसार कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने उन्हें विधायकों के साथ दिल्ली जाने को कहा है। गुरुवार शाम तक सभी विधायक दिल्ली पहुंच जाएंगे। गोविंद सिंह ने दिग्विजय सिंह के अध्यक्ष बनने पर कहा कि उनका अध्यक्ष बनना अच्छा निर्णय होगा। वह कई पदों पर काम कर चुके हैं। उनके अनुभव का लाभ कांग्रेस को मिलेगा। डॉ. गोविंद सिंह समेत

एमपी से12 विधायक दिल्ली जाएंगे। मध्य प्रदेश विधानसभा नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गोविंद सिंह ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने एआईसी के चुनाव में नामांकन के लिए प्रस्तावकों/ समर्थकों के नाम भेजे। इनमें विधायक हिना कांवरे, जीतू पटवारी, पीसी शर्मा, लाख सिंह यादव, आलोक चतुर्वेदी, आरिफ मसूद, कांतिलाल भूरिया, रामलाल मलवीय, सुरेंद्र सिंह बघेल, विपिन वानखेड़े, कमलेश्वर पटेल और डॉ. गोविंद सिंह के नाम शामिल है।

दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश के दस साल मुख्यमंत्री रहे। उनके पास कांग्रेस महासचिव रहते हुए कई राज्यों का प्रभार भी रहा। इनमें असम, महाराष्ट्र, कर्नाटक, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, गोवा और बिहार शामिल हैं। इनमें कई जगह उनके समय सरकार बनी तो कहीं कांग्रेस का वोट प्रतिशत बढ़ा। अभी राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा की प्लानिंग दिग्विजय सिंह ने ही की है। जिसे भारी समर्थन मिल रहा है।

कांग्रेस विधायक और पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि दिग्विजय सिंह यदि फॉर्म भर रहे हैं तो यह आलाकमान का निर्देश होगा। वह बिना आलाकमान के कोई निर्णय नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि यह उन लोगों को जवाब होगा जो कहते हैं कि गांधी परिवार के अलावा कोई दूसरा अध्यक्ष नहीं हो सकता। वहीं, बीजेपी ने दिग्विजय सिंह के अध्यक्ष पद की रेस में शामिल होने पर तंज कसा। प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने दिग्विजय सिंह के नामांकन फॉर्म लेने पर कहा कि हम तो चाहते हैं कि वह अध्यक्ष बने। सारंग ने कहा कि उनके जहां-जहां पांव पड़े, वहां-वहां बंटाढार हुआ।

Source:-“अमर उजाला”


Share More

Leave a Reply

Your email address will not be published.