रोजगार मूलक कार्यों से श्रमिकों के चेहरे में आई रौनक
छत्तीसगढ़

रोजगार मूलक कार्यों से श्रमिकों के चेहरे में आई रौनक

धमतरी। जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत चल रहे कार्यों में नियोजित श्रमिकों की संख्या में बढ़ोत्तरी हुई है। साथ ही प्रत्येक जाब कार्डधारी परिवार को वित्तीय वर्ष 2020-21 में प्रति व्यक्ति को प्रतिदिन 190 रुपये के हिसाब से 30 दिन का कार्य सृजित करने पर श्रमिकों के खाते में 5700 रुपये एकमुश्त जमा होने से श्रमिकों के चेहरे में खुशियां आई है।

कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य के मार्गदर्शन एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के निर्देश पर जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत मांग आधारित कार्य डबरी निर्माण, तालाब गहरीकरण, कच्ची नाली निर्माण, भूमि सुधार कार्य, मिट्टी सड़क निर्माण कार्य, गोठान निर्माण, आंगनबाड़ी निर्माण, नरूवा इत्यादि कार्य शुरू कर ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदाय किया जा रहा है।

अब तक 370 ग्राम पंचायतों में से 369 ग्राम पंचायतों में 68 हजार 438 श्रमिक नियोजित है। जिसमें धमतरी विकासखंड के 93 पंचायत में 16 हजार 37 श्रमिक, कुरुद विकासखंड के 108 पंचायत में 14 हजार 417 श्रमिक, मगरलोड विकासखंड के 66 पंचायत में 15 हजार 449 श्रमिक, नगरी विकासखंड के 102 पंचायत में 22 हजार 535 श्रमिक कुल 1300 रोजगार मूलक कार्यों में नियोजित हैं।

एक ओर मजदूर अपने काम के प्रति उत्साहित होकर कार्य कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर 190 रुपये प्रति दिवस मजदूरी मिलने पर काफी खुश और निश्चिंत हैं। शासन के दिशा-निर्देश अनुसार ग्रामीण श्रमिकों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए जल संग्रहण एवं कंवर्जेंस जैसे कार्यों को प्राथमिकता से कराये जा रहे हैं।

जिला पंचायत सीईओ मयंक चतुर्वेदी ने बताया कि-जिले के सभी पंचायतों में मांग अनुसार महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के कार्य कराए जा रहे हैं। विभागीय अधिकारी द्वारा सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक से सतत संपर्क कर पर्याप्त मात्रा में रोजगार मूलक कार्य स्वीकृत कराने के निर्देश दिए गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *