अमवा खास तटबंध पर कटाव जारी, तबाह हो सकते हैं यूपी-बिहार के कई गांव
राज्य

अमवा खास तटबंध पर कटाव जारी, तबाह हो सकते हैं यूपी-बिहार के कई गांव

अमवा खास तटबंध पर कटाव जारी, तबाह हो सकते हैं यूपी-बिहार के कई गांव

बगहाबिहार-उत्तर प्रदेश सीमा पर कुशीनगर बाढ़ खंड के अमवा खास तटबंध का करीब तीस मीटर हिस्सा शुक्रवार की सुबह गंडक नदी में विलीन हो चुकी है। तटबंध पर लगातार कटाव जारी है। अभी तक तीन-चौथाई से अधिक हिस्सा गंडक की धारा में बह चुका है। दूसरी ओर प्रशासन बांध पर शेष बचे स्लोप (टो) को बचाने का हर संभव प्रयास कर रही है। हालांकि यहां बचाव कार्य के लिए आवश्यक संसाधन का घोर अभाव दिख रहा है। बिहार सरकार ने भी तत्काल पडरौना सर्किल के अभियंताओं को बचाव कार्य में जुटने का आदेश दिया है। अभियंताओं की टीम कटाव स्थल पर कैंप कर रही है। वहीं दूसरी ओर यूपी के अभियंताओं के कटावरोधी कार्य से स्थानीय ग्रामीण खुश नहीं है। ग्रामीणों का आरोप है कि समय रहते अगर अभियंता कटावरोधी कार्य करते तो यह मंजर सामने नहीं आता। तटबंध के नीचे हिस्से में बसे लक्ष्मीपुर, भवानीपुर, सिसहन, महुआबारी व रामपुर के ग्रामीण गांव खाली करना शुरू कर दिया है। यूपी में भी सैकड़ों परिवार गांव खाली कर पीपी तटबंध पर शरण लिए हुए हैं।

मुख्य विकास अधिकारी कुशीनगर आनंद कुमार ने बताया कि तटबंध के बचे हिस्से का बचाने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है। बांध से सटे नीचे हिस्से में बसे गांव को खाली करने का आदेश दिया गया है। इधर ठकराहां सीओ चन्द्रशेखर तिवारी, बीडीओ सन्नी सौरभ, जमादार रामानुज सिंह ने बताया कि ठकराहां, मोतीपुर, जगीरहां व कोईरपट्टी पंचायत को अलर्ट कर दिया गया है। सभी लोगों को ऊंचे स्थान पर जाने की सलाह दी गई है। चारों प्रखंड में विद्युत आपूर्ति बाधित

यूपी-बिहार सीमा के अमवा खास तटबंध पर नदी का दबाव देखते हुए ठकराहां सहित चारों प्रखंड में विद्युत आपूर्ति फिलहाल बाधित है। यहां बताते चलें कि ठकराहां ग्रिड से ही भितहां, मधुबनी व पिपरासी प्रखंडवासियों को विद्युत आपूर्ति होती है। ठकराहा ग्रिड में विद्युत सप्लाई के लिए 33 हजार विद्युत पोल उक्त तटबंध से होकर गुजरती है। बांध पर कटाव को देखते हुए आपूर्ति बंद कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *