• September 27, 2022 12:38 pm

आबकारी विभाग में युकां नेता की ज़बरिया दख़लंदाज़ी सत्तावादी अहंकार और बदमिज़ाज़ी का शर्मनाक प्रदर्शन : भाजयुमो

ByPrompt Times

Aug 3, 2020
जिन्हें पकौड़ा में रोज़गार नज़र नहीं आ रहा था, वे अब गोबर बिनवाकर सालभर रोज़गार मुहैया कराने की बातें कर रहे : भाजयुमो
Share More

कांग्रेस नेतृत्व और प्रदेश सरकार का अपने बे-लग़ाम होते जा रहे कार्यकर्ताओं पर कोई नियंत्रण ही नहीं रह गया है
कार्यकर्ताओं के अमर्यादित आचरण के चलते जो अराजकता फैलेगी, उसके लिए सरकार और कांग्रेस ही ज़िम्मेदार रहेगी : शर्मा

रायपुर
भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष विजय शर्मा ने आबकारी विभाग में युवक कांग्रेस नेता की ज़बरिया दख़लंदाज़ी की निंदा करते हुए इसे कांग्रेस के सत्तावादी अहंकार और बदमिज़ाज़ी का शर्मनाक बताया है। श्री शर्मा ने कहा कि जबसे प्रदेस में कांग्रेस सत्ता में आई है, प्रदेश में कांग्रेस के लोग प्रशासन में घुसपैठ कर अधिकारियों को धमकाने व उन पर दबाव बनाकर अपनी मनमानी चलाने की अनधिकृत चेष्टा करने में लगे हैं, जिसके कारण प्रदेश में एक अलग तरह की अराजकता का माहौल बनने लगा है।
भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि अभनपुर आबकारी वृत्त की प्रभारी अधिकारी द्वारा युवक कांग्रेस नेता के ख़िलाफ़ शासकीय कार्य में बाधा डालने और फोन पर धमकी देने की रिपोर्ट दर्ज़ कराना यह साबित करता है कि कांग्रेस के लोग सत्तावादी अहंकार में कितना चूर हैं! ज़ाहिर है, पानी जब सिर से ऊपर गुजरने लगा, तब अधिकारी ने संत्रस्त होकर यह रिपोर्ट पुलिस में दर्ज़ कराई है। श्री शर्मा ने कहा कि एक तो प्रदेश की कांग्रेस सरकार और कांग्रेस सत्ता में आने के बाद से ही बदनीयती, कुनीतियों और नेतृत्वहीनता के दौर से गुज़र रही है, ऊपर से कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता ख़ुद को प्रदेश का भाग्यविधाता मानने की ग़लतफ़हमी पालकर बैठ गए हैं और गाहे-ब-गाहे अपनी ऐसी अनधिकृत चेष्टाओं से प्रदेश में राजनीतिक अराजकता का माहौल बना रहे हैं। श्री शर्मा ने कहा, ऐसा प्रतीत हो रहा है कि कांग्रेस नेतृत्व और प्रदेश सरकार का अपने बे-लग़ाम होते जा रहे कार्यकर्ताओं पर कोई नियंत्रण ही नहीं रह गया है और वे प्रदेश की प्रशासनिक व्यवस्था को अपनी मर्ज़ी के मुताबिक चलाने को उतावले हुए जा रहे हैं।
भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि एक तो प्रदेश सरकार और कांग्रेस के नेतृत्व में प्रदेश में राजनीतिक प्रतिशोध और मनमानी की नित-नई मिसालें गढ़ी जा रही हैं, विरोध में आवाज़ उठाने पर भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ-साथ सामाजिक कार्यकर्ताओं व मीडिया कर्मियों पर क़ानून का डंडा घुमाया जा रहा है, वहीं दूसरी ओर कांग्रेस के लोग पूरे प्रदेशभर में जो तांडव मचाए बैठे हैं, उस पर न तो कांग्रेस, न प्रदेश सरकार और न ही प्रशासन की ओर से कोई अंकुश लगाया जा रहा है। श्री शर्मा ने प्रदेश सरकार और प्रदेश कांग्रेस नेतृत्व को नसीहत दी है कि वे अपने कार्यकर्ताओं के आचरण को मर्यादित करने की चेष्टा करें, अन्यथा प्रदेश में इसके चलते जो अराजकता का नज़ारा पेश होगा उसके लिए प्रदेश सरकार और कांग्रेस नेतृत्व ही पूरी तरह ज़िम्मेदार रहेगा।


Share More

Leave a Reply

Your email address will not be published.