देश को खाद्यान्न में सरप्लस बनाने में पंजाब-हरियाणा के किसानों का प्रमुख योगदान
राष्ट्रीय

देश को खाद्यान्न में सरप्लस बनाने में पंजाब-हरियाणा के किसानों का प्रमुख योगदान

केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मंगलवार को कहा कि खेती-किसानी के क्षेत्र में पंजाब-हरियाणा की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। हमें गर्व है कि इन राज्यों के किसानों की अथक मेहनत के कारण भारत आज खाद्यान्न के क्षेत्र में आत्मनिर्भर ही नहीं, बल्कि सरप्लस है। उन्होंने कहा कि पंजाब गेहूं व धान में अग्रणी रहा है लेकिन अब भू-जल स्तर कम होने से फसलों के विविधीकरण की आवश्यकता है, जिसके लिए पंजाब के किसानों ने सफलतापूर्वक कदम आगे बढ़ाए हैं।

तोमर ने मंगलवार को पंजाब के कपूरथला जिले के फगवाड़ा में सुखजीत मेगा फूड पार्क का विडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि फूड प्रोसेसिंग पर भी पूरा ध्यान देना जरूरी है, जिससे किसानों को उचित मूल्य मिलेगा, वहीं सम्बद्ध क्षेत्रों को भी फायदा होगा।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार किसानों की भलाई के लिए लगातार काम कर रही है। कृषि उपजों की एमएसपी को बढ़ाया गया है, 10 हजार नए एफपीओ बनाने की स्कीम सरकार लाई, किसानों को ब्याज सब्सिडी दी जा रही है, छोटे किसानों जिनकी संख्या 86 प्रतिशत है, उन्हें लाभ पहुंचाने पर पूरा ध्यान है। किसानों को एफपीओ के माध्यम से अनेक फायदे होंगे। एफपीओ भारत सरकार का एक बड़ा क्रांतिकारी कदम है। आत्मनिर्भर भारत अभियान में पैकेज के अंतर्गत 1 लाख करोड़ के कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर फंड से स्वीकृतियां देना प्रारंभ हो चुका है, पंजाब को भी इसका फायदा उठाना चाहिए।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि फूड प्रोसेसिंग के विकास के लिए 10 हजार करोड़ का फंड बनाया गया है, जिससे किसानों को वाजिब लाभ मिल सकेगा, वहीं रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। अभी तक 37 मेगा फूड पार्कों को केंद्र सरकार द्वारा मंजूरी दी गई है, जिनमें से 20 पूर्व में प्रारंभ हो चुके हैं।

उन्होंने कहा कि कृषि के क्षेत्र में अनुसंधान का विशेष महत्व है, आईसीएआर बहुत अच्छे से शोध कर रहा है, जिसका लाभ देश को मिल रहा है। उन्होंने पंजाब के वित्त मंत्री द्वारा पंजाब में कृषि अनुसंधान को और बढ़ाने की जरूरत पर, राज्य सरकार से केंद्र को प्रस्ताव देने को कहा।

तोमर ने कहा कि पंजाब से शोध कार्य, एथेनाल संबंधी तथा अन्य जो भी प्रस्ताव आएंगे, केंद्र सरकार उन पर गंभीरता से विचार करेगी। तोमर ने उम्मीद जताई कि मक्का आधारित सुखजीत मेगा फूड पार्क खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के विकास में एक मील का पत्थर साबित होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *