लगभग दुगुनी लागत से स्काईवॉक बनाना प्रदेश सरकार की प्रशासनिक अक्षमता का उदाहरण : भाजपा
राजनीति

लगभग दुगुनी लागत से स्काईवॉक बनाना प्रदेश सरकार की प्रशासनिक अक्षमता का उदाहरण : भाजपा

दुवा का सवाल : सरकार प्रदेश को यह बताए कि सत्ता में आते ही इस काम में अड़ंगा डालकर इसे रुकवाने का आधार क्या था?

रायपुरभारतीय जनता पार्टी के रायपुर शहर ज़िला उपाध्यक्ष सत्यम दुवा ने राजधानी में निर्माणाधीन स्काईवॉक पर निर्णय लेने में विलंब करने के कारण उसकी लागत पाँच करोड़ रुपए बढ़ जाने के लिए प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लिया है। श्री दुवा ने कहा कि स्काईवॉक पर निर्णय लेने वाली कमेटी ने  स्काईवॉक की डिजाइन बदली तो सरकार को पुराने ठेकेदार की सामग्री का पाँच करोड़ रुपए भुगतान करना होगा और यदि डिजाइन नहीं बदली गई और पुराने ठेकेदार से ही काम कराया गया तो भी शासन पर अतिरिक्त आर्थिक भार पड़ना तय है। श्री दुवा ने कहा कि यह प्रदेश सरकार की प्रशासनिक अक्षमता का उदाहरण है।
रायपुर शहर ज़िला भाजपा उपाध्यक्ष श्री दुवा ने कहा कि भविष्य की ज़रूरतों को ध्यान में रखकर और राजधानी में बढ़ते यातायात के मद्देनज़र लोगों को सुविधा देने के लिए जिस काम को भाजपा की पूर्ववर्ती राज्य सरकार ने शुरू कराया था, ‘बदलापुर नरेश’ ने आनन-फानन उस काम को रुकवा दिया जबकि तथ्य यह है कि व्यापक पैमाने पर सर्वे कराने के बाद भाजपा शासनकाल में इसे मंजूरी दी गई थी। श्री दुवा ने कहा कि अब इसे फिर से शुरू कराने जा रही सरकार प्रदेश को यह बताए कि सत्ता में आते ही इस काम में अड़ंगा डालकर इसे रुकवाने का आधार क्या था? ढुलमुल रवैए के चलते अब यह काम लगभग दुगुनी लागत से पूरा हो पाएगा। श्री दुवा ने आशंका जताई है कि दाल में कुछ तो काला है या पूरी की पूरी दाल ही काली है। जनता की पसीने की कमाई का कांग्रेस के जाया करने पर आतुर हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *