• September 30, 2022 5:03 am

नल-जल योजना अधूरी-घरों तक नहीं पहुंचा शुद्ध पेयजल

By

Apr 7, 2021
नल-जल योजना अधूरी-घरों तक नहीं पहुंचा शुद्ध पेयजल
Share More

दरभंगा। सरकार की अति महत्वाकांक्षी नल-जल योजना के लाभ से प्रखंड व नगर परिषद क्षेत्र की एक बड़ी आबादी वंचित है। लोगों के घरों तक शुद्ध पेयजल नहीं पहुंचा है। तेज धूप व गर्मी के बीच बेनीपुर शहरी व ग्रामीण इलाकों में पेयजल संकट उत्पन्न होने की आशंका से लोग डरे हैं। अनुमंडल पदाधिकारी प्रदीप कुमार झा व नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी राजेश कुमार झा द्वारा प्रखंड की 16 पंचायतों तथा बेनीपुर नगर परिषद के 29 वार्डों में नल जल योजना के कार्य को पूरा कर लोगों तक शुद्ध पेयजल मुहैया कराने को लेकर जारी निर्देश भी बेअसर हैं।

29 में 10 वार्डों के लोगों को ही नसीब हुआ शुद्ध पेयजल
योजना की जमीनी हकीकत यह है कि नगर परिषद क्षेत्र के कुल 29 में 10 वार्डों में ही अबतक काम पूरा कर लोगों के घरों तक शुद्ध पेयजल पहुंचाया जा सका है। शेष 19 वार्डों में कार्य पूरा नहीं हो सका है। नतीजतन इलाके के लोग गर्मी में पेयजल की उपलब्धता को लेकर चितित हैं। 16 में से 11 पंचायतों में काम अधूरा

बेनीपुर प्रखंड की कुल 16 पंचायतों के सभी घरों तक नल जल योजना के तहत 31 मार्च तक शुद्ध पेयजल मुहैया करा देना था, लेकिन 11 पंचायतों में अब भी काम आधा-अधूरा है। प्रखंड की गणेश-बनौल बलनी, शिवराम, तरौनी, माधोपुर, रमौली, मकरपुर, महिनाम, पोहदी, सजनपुरा, देवराम- अमैठी एवं जरिसो पंचायत के अधिकांश वार्डों में योजना पूर्ण नहीं है।

पैसे की हेराफेरी के चक्कर में फंसी योजना
जानकार बताते हैं कि कई पंचायतों में मुखिया व पंचायत सचिव के स्तर पर वार्ड क्रियान्वयन समिति के खाते में योजना की राशि नहीं दी जा रही है। इसके पीछे कमीशन का चक्कर है। कई पंचायतों में वार्ड सदस्य एवं वार्ड सचिव के स्तर पर समिति के खाते से रुपये की निकासी तो की गई है, लेकिन राशि की हेराफेरी किए जाने के कारण योजना अधूरी है।

ग्रामीण बताते हैं- एसडीओ प्रदीप कुमार झा ने संबंधित वार्डों का निरीक्षण कर मुखिया एवं वार्ड सदस्यों को नल जल योजना के कार्यों को पूरा कराने का निर्देश दिया। लेकिन, उनके जाते ही स्थिति खराब हो गई।

बोले लोग : बेहद गंभीर है स्थिति

पिछले साल की तरह इस साल भी पेयजल संकट उत्पन्न नहीं हो इसके लिए। प्रशासनिक पदाधिकारियों को अभी से सार्थक कदम उठाने चाहिए। वार्ड संख्या-आठ में नल जल योजना की हालत बेहद गंभीर है।

जीवनाथ झा बेनीपुर नगर परिषद, वार्ड संख्या-10 जरिसो पंचायत में नल जल योजना की हालत बेहद खराब है। योजना में बड़े पैमाने पर सरकारी रुपयों की बंदरबांट हुई है। इसकी उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए।

अशोक कुमार झा

ग्रामीण, जरिसो शहरी ए़वं ग्रामीण इलाके के अधिकांस वार्डों में नियमित रूप से लोगों नल जल योजना के तहत गाड़ी गई बोरिग व लगाए गए नल से लोगों को शुद्ध पेयजल नसीब नहीं हो पा रहा है। हर जगह यह योजना फेल है।

रामफल मिश्र

ग्रामीण चौगमा अमैठी पंचायत में वैसे तो सभी योजनाओं में भयंकर लूट हुई है। नल जल योजना भी कई वार्डों में फेल है। जिम्मेदार अधिकारियों को बंद चापाकलों को भी चालू कराना चाहिए।

संतोष झा
ग्रामीण, अमैठी

योजना में गड़बड़ी को लेकर कई पंचायतों के वार्ड सदस्य व मुखिया के खिलाफ कार्रवाई हुई है। जिन पंचायतों में कार्य अब तक पूरा नहीं हुआ है, वहां के मुखिया व वार्ड सदस्यों पर कार्रवाई होनी तय है।

अमोल मिश्र
प्रखंड विकास पदाधिकारी, बेनीपुर।


Share More

Leave a Reply

Your email address will not be published.