रांची | 31 जुलाई 2021 | अगस्त महीने से कई नियमों में बदलाव होने वाले हैं। इसका हमारे जीवन पर खास और व्यापक असर पड़ने वाला है। इसके तहत जहां एक तरफ वेतनभोगियों की सैलरी छुट्टी वाले दिन भी उनके खाते में आ सकेगी, वहीं एटीएम का इस्‍तेमाल करना महंगा होने जा रहा है। साथ ही, एलपीजी के दाम में भी बढ़ोतरी की संभावना है।

महंगा होगा एटीएम का इस्तेमाल

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के नए नियम के तहत अब बैंक ग्राहक अपने बैंक के एटीएम से हर महीने 5 फ्री ट्रांजैक्शन, जिसमें वित्तीय और गैर-वित्तीय लेनदेन शामिल है, की सुविधा का लाभ ले सकते हैं। इसके बाद के ट्रांजैक्शन पर उन्हें चार्ज देना होगा। आरबीआइ ने वित्तीय लेन-देन के लिए 15 रुपये से 17 रुपये तक और सभी केंद्रों में गैर-वित्तीय लेनदेन के लिए 5 रुपये से 6 रुपये तक प्रति लेन-देन इंटरचेंज शुल्क में बढ़ोतरी की है।

सैलरी का नहीं करना होगा इंतजार

वेतनभोगियों को अब सैलरी के आने का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। अब छुट्टी वाले दिन भी खाते में सैलरी आ जाएगी। रिजर्व बैंक ने नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस के नियमों में बदलाव किया है। यह एनपीसीआइ द्वारा संचालित एक थोक भुगतान प्रणाली है, जो विभिन्न प्रकार के क्रेडिट ट्रांसफर जैसे डिविडेंड, ब्याज, सैलरी और पेंशन की सुविधा प्रदान करता है। वर्तमान में नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस सेवाएं केवल उन दिनों में उपलब्ध हैं, जब बैंक काम कर रहे होते हैं, लेकिन 1 अगस्त से यह सुविधा सप्ताह के सभी दिनों में उपलब्ध हो जाएगी। इससे ईएमआइ जैसे महत्वपूर्ण लेन-देन के लिए भी इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

आइसीआइसीआइ बैंक से पैसा निकालना हुआ महंगा

आइसीआइसीआइ बैंक से हर महीने चार ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। अगर कोई ग्राहक चार बार से ज्यादा पैसे निकालता है तो उसे एक बार के ट्रांजैक्शन के हिसाब से 150 रुपये देने होंगे। इसके अलावा आइसीआइसीआइ बैंक ने हर महीने के लिए 1 लाख रुपये तक के ट्रांजैक्शन फिक्स कर रखे हैं। इसके बाद पैसे की निकासी पर उन्हें चार्ज देना होता है।

इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक सर्विस के लिए देना होगा पैसा

अब इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक (आइपीपीबी) की डोर स्टेप बैंकिंग सुविधा के लिए शुल्क देना पड़ेगा। आइपीपीबी के आधिकारिक वेबसाइट पर इस बात की घोषणा की गई है। इसके अनुसार अब हर बार डोर स्टेप बैंकिंग सुविधा के लिए 20 रुपये प्लस जीएसटी शुल्क देना होगा। अभी तक यह सर्विस बिलकुल फ्री थी। यानी अब सुकन्या समृद्धि योजना जैसी पोस्ट ऑफिस से जुड़ी योजनाओं के लिए अगर आप घर पर सेवाएं लेते हैं तो 20 रुपया चार्ज देना होगा।

एलपीजी के दाम में बढ़ोत्तरी संभव

हर महीने की एक तारीख को एलपीजी के दाम की समीक्षा की जाती है। ऐसे में संभावना है कि अगस्‍त में एक तारीख को राज्य में घरेलू एलपीजी की कीमतों में बढ़ोत्तरी की जा सकती है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा रहा है कि पेट्रोल-डीजल के दाम में तेजी जारी है। हालांकि कुछ जानकारों का कहना है कि उत्तर प्रदेश में चुनाव और अंतरराष्ट्रीय बाजार में पेट्रोलियम उत्पाद के दाम में कमी के कारण इस महीने संभव है कि दाम में वृद्धि न हो।

Source;-“जागरण”         

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *