क्या पूरे मध्य प्रदेश में लगेगा लॉकडाउन? CM शिवराज ने दिया ये जवाब
मध्यप्रदेश

मास्क पहनिए-भीड़ से बचिए- खत्म नहीं हुआ है कोरोना- हम नहीं चाहते फिर लॉकडाउन लगाना पड़े-शिवराज

भोपाल: मध्य प्रदेश में एक बार फिर कोरोना संक्रमण पैर पसार रहा है. प्रदेश के कई जिलों में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है. कोरोना की स्थिति को देखते हुए सीएम शिवराज ने प्रदेश की जनता का संबोधित किया. सीएम ने कहा कि मध्य प्रदेश में कोरोना फिर से बढ़ रहा है. उन्होंने जनता से मास्क पहनने और भीड़ से बचने की अपील की. उन्होंने कहा कि कोरोना का खतरा समाप्त नहीं हुआ है, सावधानी बरतें, हम नहीं चाहते कि लॉकडाउन की नौबत आए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें कोरोना संक्रमण पर काबू पाना है. कोरोना की लड़ाई में जनता का सहयोग जरूरी है. अगर हालात बिगड़े तो सख्त कदम उठाने होंगे. उन्होंने कहा कि इंदौर, भोपाल, डिंडौरी और महाराष्ट्र की सीमा से लगे जिलों में ऐक्टिव केस लगातार बढ़ रहे हैं. पिछले हफ्ते तक केस घट रहे थे लेकिन अब दोबारा बढ़ रहे हैं.

एक दिन में सामने आए 378 केस
सीएम शिवराज ने कहा कि कल प्रदेश में कोरोना के कुल 378 मामले सामने आए हैं. अगर स्थिति बिगड़ती है तो लॉकडाउन लगाने की नौबत आ जाएगी. सीएम ने जनता से कहा कि आइये हम सब मिलकर संकल्प लें, फिर कोरोना को मारेंगे, कोरोना हारेगा, मध्यप्रदेश जीतेगा.

महाराष्ट्र जाने से बचें, राज्य में दिया जाएगा रोजगार
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे प्रदेश के जो मजदूर महाराष्ट्र में मजदूरी के लिए जाते हैं. वे यहीं रहें उन्हें मनरेगा के तहत प्रदेश में ही रोजगार दिया जाएगा. साथ ही उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र से सटे जिले बुरहानपुर, खरगोन, बैतूल, छिंदवाड़ा, सिवनी, बालाघाट के रहने वालों को सावधान रहने की जरूरत है.

इन लोगों को लगेगा टीका
मुख्यमंत्री ने कहा कि अब 60 साल से ऊपर के वरिष्ठ नागरिकों और 45 वर्ष से ज्यादा उम्र के गंभीर बीमारियों से पीड़ित भाइयों-बहनों को भी टीका लगेगा. थोड़ा धैर्य सावधानी रखें. कोरोना के लिए बनाई गई हर गाइडलाइन का पालन करें.

जिलावार लिए जा रहे निर्णय
सीएम ने कहा कि कोरोना को देखते हुए बड़े मेलों के आयोजन पर रोक लगा दी गई है. अलग-अलग जिलों में क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक में निर्णय लिए जा रहे हैं. इंदौर सहित कुछ जिलों में शादी आदि समारोह को हॉल की क्षमता के अनुसार लोगों की संख्या सीमित कर दी है. अगर कोरोना संक्रमण की स्थिति काबू में नहीं रही तो नाइट कर्फ्यू लगाना पड़ेगा. लॉकडाउन लागू करने की जरूरत पड़ी तो वो भी करना पड़ेगा.

ZEE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *