क्या पूरे मध्य प्रदेश में लगेगा लॉकडाउन? CM शिवराज ने दिया ये जवाब
मध्यप्रदेश

क्या पूरे मध्य प्रदेश में लगेगा लॉकडाउन? CM शिवराज ने दिया ये जवाब

भोपाल. प्रदेश में करीब-करीब बेकाबू हो चुके कोरोना संक्रमण के बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने फिर कहा है कि पूरे प्रदेश में लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन लगाना ही सिर्फ समाधान नहीं है. शहरों में लॉकडाउन नहीं, बल्कि कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है. इसमें कई तरह की छूट दी गई है. मुख्यमंत्री यह बात स्मार्ट सिटी में पौधरोपण के बाद कही.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि उद्योग चलते रहेंगे. टीकाकरण पूरी ताकत से चलेगा. IT-BPO अपना-अपना काम करते रहेंगे. आर्थिक गतिविधि चालू रहना चाहिए. लेकिन, जनता को खुद फैसला करना होगा कि वह घर से बाहर न निकले. मुख्यमंत्री ने कहा कि संक्रमण से लड़ाई जनता की मदद के बिना नहीं जीती जा सकती. राजधानी के हमीदिया अस्पताल में ढाई सौ बिस्तर बढ़ रहे हैं. निजी अस्पताल आरकेडीएफ में भी बिस्तर की संख्या को बढ़ाया जा रहा है.

व्यवस्थाओं में कोई कमी नहीं- शिवराज

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है. जीवन रक्षक इंजेक्शन कल 4000 आ गए थे, आज 5000 आ रहे हैं. संक्रमण बढ़ने से रोकना है तो खुद को जागरूक होना होगा. आज से वैक्सीनेशन उत्सव का कार्यक्रम शुरू हुआ है. पूरी ताकत से वैक्सीनेशन का अभियान चलाया जाएगा. टीकाकरण अभियान में केंद्र सरकार का भरपूर सहयोग मिल रहा है.

सरकार ने इन शहरों में लगा दिया है लॉकडाउन

सरकार ने रविवार को पन्ना में 15 अप्रैल को सुबह 6 बजे तक, जबकि मंडला और देवास जिलों में 19 अप्रैल को सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन की घोषणा कर दी. बता दें, सरकार ने 1 दिन पहले ही 11 जिलों में 9 दिनों का लॉकडाउन लगा दिया था. यह लॉकडाउन शाजापुर छिंदवाड़ा, कटनी, रतलाम, बैतूल, खरगोन, सिवनी, बड़वानी, राजगढ़, बालाघाट, विदिशा और नरसिंहपुर में लगाया गया.

इन जिलों को पूरी तरह से बंद करने का फैसला आपदा प्रबंध समिति और मंत्रिमंडल के सदस्यों की हुई बैठक के बाद लिया गया. सरकार इंदौर के साथ राऊ, महू, शाहजहांपुर और उज्जैन के शहरी क्षेत्रों में 19 अप्रैल की सुबह तक लॉकडाउन का फैसला ले चुकी है. यह सभी पहले 12 अप्रैल की सुबह 6:00 बजे खुलने वाले थे. बड़वानी, राजगढ़, विदिशा जिले में भी 19 अप्रैल की सुबह तक लॉकडाउन को बढ़ाया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *