• September 29, 2022 11:16 pm

पहाड़ी इलाकों में सात अप्रैल तक बारिश और ओले गिरने के आसार-यलो अलर्ट जारी

By

Apr 5, 2021
पहाड़ी इलाकों में सात अप्रैल तक बारिश और ओले गिरने के आसार-यलो अलर्ट जारी
Share More

उत्तराखंड में सोमवार से सात अप्रैल तक पर्वतीय जिलों में बारिश और ओले गिरने के आसार हैं। मौसम विभाग देहरादून केंद्र की ओर से इसके लिए यलो अलर्ट जारी किया गया है। साथ ही संबंधित विभागों को सतर्क रहने की सलाह दी है।

मौसम विज्ञान केंद्र के मुुताबिक सोमवार और मंगलवार को उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़, रुद्रप्रयाग, बागेश्वर और देहरादून जिले के पर्वतीय क्षेत्रों में कहीं-कहीं बहुत हल्की से हल्की बारिश, बर्फबारी और आकाशीय बिजली चमकने की संभावना है। सात अप्रैल को उत्तरकाशी, चमोली, बागेश्वर, नैनीताल, अल्मोड़ा और पिथौरागढ़ जिलों में कहीं-कहीं ओलावृष्टि व आकाशीय बिजली चमकने का पूर्वानुमान है।

उत्तरकाशी, चमोली और पिथौरागढ़ जिले में कहीं-कहीं भारी बारिश और बर्फबारी की संभावना है। मैदानी क्षेत्रों में कहीं-कहीं झोंकेदार हवाएं चलने की संभावना जताई गई है। मौसम विज्ञान केंद्र ने चेतावनी दी है कि सात अप्रैल को उत्तरकाशी, चमोली और पिथौरागढ़ जिले में भारी बारिश और बर्फबारी से भूस्खलन की संभावना है।

मौसम विज्ञान केंद्र ने संबंधित विभागों को सलाह दी है कि वह सड़कों की साफ सफाई के लिए आवश्यक व्यवस्था कर लें। साथ ही वाहन चलाते समय यात्रियों या वाहन से जाने वाले लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। वहीं, रविवार को देहरादून में तापमान में बढ़ोतरी और चिलचिलाती धूप से लोग परेशान रहे।

मौसमी बीमारियों से रहें सतर्क, खानपान का रखें ध्यान
बदलते मौसम में कई तरह की बीमारियां भी फैल रही हैं। चिकित्सकों के मुताबिक ऐसे में सावधानी बरतें और खाने में हरी सब्जियों का प्रयोग बढ़ाएं। ताकि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनी रहे।

इस समय मौसम का मिजाज लगातार बदल रहा है। सुबह-शाम सर्दी होती और दिन गर्म रहता है। ऐसे कई तरह की संक्रामक बीमारियां फैलती हैं। लक्सर में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. अनिल वर्मा ने बताया कि कुछ ही दिनों में लू चलना भी शुरू हो जाएगी। लू की वजह से शरीर में फूड प्वाइजनिंग, बुखार, पेट में दर्द व उल्टी की समस्या होेती है। लू व अन्य संक्रामक बीमारियों से बचने के लिए खान-पान का ध्यान रखना बेहद जरूरी है।

शरीर में पानी की कमी न होने दें और हरी सब्जी व सलाद आदि का अधिक से अधिक प्रयोग करें। तबीयत बिगड़ने पर डॉक्टर से दवाइयां लें। इसके अलावा जुकाम, बुखार, खांसी से पीड़ित के चपेट में आने से बचें। इन बीमारियों से बचने के लिए गर्म-सर्द मौसम से बचना भी जरूरी है। इस मौसम में बच्चों और बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें। बाहर जाते वक्त छाता लेकर निकलें।


Share More

Leave a Reply

Your email address will not be published.