पिछले 14 साल में सबसे सर्द रही नवंबर की सुबह
दिल्ली

पिछले 14 साल में सबसे सर्द रही नवंबर की सुबह

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में शुक्रवार सुबह न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो पिछले कम से कम 14 साल में नवंबर में दर्ज किया गया सबसे कम तापमान है. निजी पूर्वानुमान एजेंसी ‘Skymet Weather’ के विशेषज्ञ महेश पलावत ने बताया कि शहर में सर्द हवा के साथ ही न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री नीचे 10 डिग्री सेल्सियस से कम दर्ज किया गया।

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मैदानी इलाकों में सर्द हवाओं के चलने की घोषणा कर दी है, जहां न्यूनतम तामपान 10 डिग्री सेल्सियस से कम है और लगातार दो दिनों से यहां तापमान सामान्य से 4.5 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया जा रहा है. मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार दिल्ली में न्यूनतम तापमान 7.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो पिछले कम से कम 14 साल में नवंबर में दर्ज किया गया सबसे कम तापमान है।

दिल्ली में पिछले साल नवंबर में न्यूनतम तामपान 11.5 डिग्री सेल्सियस, 2018 में 10.5 डिग्री सेल्सियस और 2017 में 7.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. अभी तक का सबसे कम 3.9 डिग्री सेल्सियस तापमान 28 नवंबर, 1938 को दर्ज किया गया था।

बता दें कि जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के ऊंचाई वाले कुछ क्षेत्रों में बुधवार को बर्फबारी हुई है, उसके बाद उत्तर भारत के अधिकांश क्षेत्रों में तापमान में गिरावट दर्ज की गई. इसके साथ ही पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ भागों में घना कोहरा रहा जिसके कारण जनजीवन प्रभावित हुआ. हिमाचल प्रदेश में इस मौसम की पहली बर्फबारी होने के दो दिन बाद ठंड की स्थिति बरकरार रही।

हिमाचल प्रदेश और पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में पिछले दो दिनों मध्यम और घना कोहरा छाया रहा जिससे जनजीवन प्रभावित हुआ. वहीं, गुरुवार को उत्तर प्रदेश में, आंचलिक मौसम केंद्र की रिपोर्ट के मुताबिक कर्वी (चित्रकूट), चुर्क (सोनभद्र), इलाहाबाद तथा महोबा में एक-एक सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई, जिसके बाद ठंडी और बढ़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *