दुबई | 30 जुलाई 2021 | (एपी) अरब सागर में ओमान के तट के निकट इजराइल के स्वामित्व वाले एक व्यापारिक पोत पर कथित तौर पर हमला हुआ है। ब्रिटेन की सेना ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

इजराइल के अधिकारियों ने घटना की पुष्टि नहीं की है। हालांकि यह कथित घटना ऐसे वक्त हुई है जब इजराइल और इरान के बीच तनाव बहुत बढ़ गया है क्योंकि विश्व शक्तियों के साथ तेहरान के परमाणु समझौते पर गतिरोध बना हुआ है।

ब्रिटेन की सेना की इकाई ‘यूनाइटेड किंगडम मैरीटाइम ट्रेड ऑपरेशन्स’ की ओर से जारी वक्तव्य में कहा गया कि घटना की जांच चल रही है। इसमें बताया गया कि यह घटना बृहस्पतिवार देर रात को ओमान के मासिरा द्वीप के उत्तरपूर्व में हुई। यह स्थान ओमान की राजधानी मस्कट से 300 किलोमीटर से अधिक की दूरी पर है।

बयान में इससे ज्यादा जानकारी नहीं दी गई है, लेकिन अन्य सूत्रों के अनुसार उन्हें हमले में समुद्री लूटपाट होने का संदेह नहीं है। बृहस्पतिवार को ब्रिटेन की सेना के समूह ने कहा था कि वह इसी इलाके में एक और घटना की जांच कर रहा है।

शुक्रवार को ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय ने पोत के मालिकों की नागरिकता के बारे में तो जानकारी दी लेकिन विस्तार से कुछ और नहीं बताया।

ओमान ने तत्काल हमले की बात नहीं स्वीकारी है। पश्चिम एशिया के समुद्री क्षेत्र में गश्त करने वाले अमेरिकी नौसेना के पांचवें बेड़े ने भी इस बारे में अभी कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

यह घटना ऐसे समय में हुई है जब ईरान के परमाणु समझौते को लेकर तनाव बढ़ गया है और इसे बहाल करने को लेकर विएना में चल रही बातचीत रुक गई है। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 2018 में एकपक्षीय तरीके से समझौते से हट गए थे जिसके बाद से क्षेत्र में जहाजों पर अनेक हमले हुए हैं और इनका संदेह तेहरान पर जाता रहा है।

ईरान के मीडिया ने भी अब तक हमले की पुष्टि नहीं की है।

Source;-“Lokmat News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *