हिमाचल में एक सप्ताह पहले पहुंचेगा मानसून-3 दिन भारी बारिश की चेतावनी
हिमाचल प्रदेश

हिमाचल में एक सप्ताह पहले पहुंचेगा मानसून-3 दिन भारी बारिश की चेतावनी

कुछ दिनों से प्रदेश में तापमान लगातार बढ़ रहा है और उमस भरा मौसम बना हुआ है. हिमाचल प्रदेश में सबसे ज्यादा तापमान ऊना जिला में दर्ज किया जाता है. 9 जून की रात ऊना जिला में सबसे गर्म रात रही. जिला में 9 जून को सबसे अधिक न्यूनतम तापमान 31 डिग्री दर्ज किया गया. यह तापमान सीजन में सबसे अधिक दर्ज किया गया है. शिमला. हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) में इस बार मॉनसून (Monsoon) एक हफ्ते पहले दस्तक देगी. आमतौर पर हिमाचल में मानसून के पहुंचने का समय 25 जून तक होता है, लेकिन ऐसा बार पहले ही मॉनसून की एंट्री होने जा रही है.

शिमला के मौसम विभाग (Weather Department) के अनुसार, 11 जून से हिमाचल में प्री मॉनसून शॉवर्स शुरू हो जाएंगे.

अगर बारिश लगातार होती रही तो हिमाचल में मानसून 20 जून से पहले ही पहुंच जाएगा. बता दें कि हिमाचल में गुरुवार को दोपहर बाद मंडी सहित कई इलाकों में हल्की बारिश हो रही है. कैसा रहेगा मौसम: मौसम विभाग के अनुसार, आगामी दिनों में हिमाचल प्रदेश में 11 जून से लेकर 13 जून तक अलर्ट जारी किया गया है. 11 और 12 जून को हिमाचल प्रदेश में येलो अलर्ट और 13 जून को प्रदेश में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. 13 जून को प्रदेश के 4 जिलों शिमला, सिरमौर, मंडी और कांगड़ा में ज्यादा असर देखने को मिलेगा. अलर्ट के चलते प्रदेश में भारी से बहुत भारी बारिश और तूफान चलने की चेतावनी जारी की गई है. भूस्खलन, पेड़ गिरने, जल स्तर बढ़ने जैसी घटनाएं हो सकती हैं. ऐसे में लोगों को सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं.

लगातार बढ़ा पारा:

इसके अलावा पिछले कुछ दिनों से प्रदेश में तापमान लगातार बढ़ रहा है और उमस भरा मौसम बना हुआ है. हिमाचल प्रदेश में सबसे ज्यादा तापमान ऊना जिला में दर्ज किया जाता है. 9 जून की रात ऊना जिला में सबसे गर्म रात रही. जिला में 9 जून को सबसे अधिक न्यूनतम तापमान 31 डिग्री दर्ज किया गया. यह तापमान सीजन में सबसे अधिक दर्ज किया गया है. इसे पहले ऊना जिला में 11 जून, 2013 में न्यूनतम तापमान 30.2 डिग्री दर्ज किया गया था. ऐसे में कह सकते हैं की ऊना जिला में न्यूनतम तापमान का रिकॉर्ड टूट चुका है. मौसम विभाग के अनुसार हिमाचल प्रदेश में बढ़े हुए तापमान से राहत मिलेगी साथ ही प्राकृतिक स्त्रोतों को भी संजीवनी मिलेगी.

Source : “News18”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *