• September 29, 2022 11:30 pm

फॉसवेक की मांग- चंडीगढ़ में वेंडर्स से कोरोना फैलने का खतरा, प्रशासन इनकी वैक्सीनेशन अनिवार्य करे

ByPrompt Times

May 22, 2021
Share More

चंडीगढ़ l 22-मई-2021 l जेएनएन शहर में इस समय जो वेंडर्स रिहायशी इलाकों में सब्जी और फल बेच रहे हैं उनमें से अधिकतर ने वैक्सीन नहीं लगवाई है। ऐसे में कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ गया है। शहर की रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशनों ने मांग की है कि वेंडर्स के लिए वैक्सीन अनिवार्य की जाए। फेडरेशन ऑफ सेक्टर वेलफेयर एसोसिएशंस चंडीगढ़ (फॉसवेक) अध्यक्ष बलजिंदर सिंह बिट्टू ने प्रशासक वीपी सिंह बदनौर और स्वास्थ्य निदेशक से मांग की है कि वेंडर्स की वैकसीनेशन अनिवार्य की जाए। इन्हें वैक्सीनेशन के बिना रिहायशी इलाकों में सब्जी और फल बेचने की मंजूरी न दी जाए। शहर की सभी रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशंस इसकी मांग कर रही है।

उनका कहना है कि एक वेंडर्स हर दिन 50 से ज्यादा लोगों को मिलकर रिहायशी इलाकों में कारोबार करने के लिए आता है, जिनसे लोग मिलते हैं। ऐसे में इनकी वैक्सीनेशन जरूरी की जाए। शहर में इस समय 800 से ज्यादा वेंडर्स हैं जो कि हर दिन सेक्टर-26 मंडी से सब्जी और फल लेकर रिहायशी इलाकों में बेचने के लिए आते हैं। इसी तरह से जो डोर टू डोर गारबेज कलेक्टर्स और सफाई कर्मचारी हैं उनकी भी वैक्सीनेशन अनिवार्य किया जाए। ऐसा करने से कोरोना संक्रमण को काबू किया जा सकता है।
उनका कहना है कि मंडी में ही वैक्सीनेशन कैंप लगाया जाए। फेडरेशन ऑफ सेक्टर वेलफेयर एसोसिएशंस चंडीगढ़ की ओर प्रशासन से मिनी कोविड केयर सेंटर बनाने के लिए स्कूल इमारत की मांग की है। फॉसवेक 25 बेड का मिनी कोविड केयर सेंटर बनाना चाहती है। इसकी लिखित में आवेदन किया गया है। बलजिदर सिंह बिट्टू का कहना है कि वह सेक्टर-21सी के प्राचीन शिव मंदिर और गुरुद्वारा साहिब में वैक्सीनेशन कैंप लगा रहे हैं। उनके यहां पर 45 साल के ऊपर की आयु वालों के लिए जो कैंप लगे हैं उनमें नियमों का ध्यान रखा जा रहा है। अगर उन्हें 18 प्लस वैक्सीन लगाने की मंजूरी दी जाती है तो प्रशासन पर कोई अतिरिक्त बोझ नहीं पड़ेगा। डॉक्टरों और स्टाफ की व्यवस्था भी वह खुद करेंगे।


Share More

Leave a Reply

Your email address will not be published.